Gautam Adani दुनिया के टॉप 20 आमिर लिस्ट में शामिल

gautam adani

Gautam Adani दुनिया के टॉप 20 आमिर लिस्ट में शामिल

नई दिल्ली : अरबपति  (Gautam Adani) गौतम अडानी का पोर्ट्स से लेकर एनर्जी तक कारोबारों में शामिल अडानी ग्रुप (Adani Group) 100 बिलियन डॉलर के बाजार में अडानी ग्रुप शामिल होने वाला तीसरा कारोबारी बन गया है । कोरोना काल में जहां भारतीय अर्थव्यवस्था और आम लोगों को झटका लगा तो वहीं इस दौरान देश के कई उद्योगपतियों की संपत्ति में तेजी से इजाफा भी हुआ है। रिलायंस इंडस्ट्री ने कोरोना संकट काल के दौरान दुनियाभर के निवेशकों से निवेश हासिल करने में सफलता हासिल की तो वहीं भारत के दिग्गज उद्योगपति और अडानी ग्रुप के चेयरमन गौतम अडानी की संपत्ति में बड़ी बढ़ोतरी हुई। गौतम अडाणी दुनिया के टॉप 20 अमीरों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं।

Adani Group 100 बिलियन डॉलर के बाजार में शामिल ।

मंगलवार को अडानी ग्रुप की छह सूचीबद्ध कंपनियों में से चार के शेयर सबसे ज्यादा ऊँचे स्टार पे पहुँच गए ।  स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़े के अनुसार , अडानी ग्रुप की छह सूचीबद्ध कंपनियों का मंगलवार को बाजार बंद होने तक का कुल बाजार पूंजीकरण 7.84 लाख करोड़ रुपये या 106.8 बिलियन डॉलर था।

फोर्ब्स की रियल टाइम बिलेनियर्स की ताजा लिस्ट के अनुसार अडानी की संपत्ति मंगलवार को करीब 61.3 अरब डॉलर हो गई। इस नेटवर्थ के साथ ही गौतम अडानी  दुनिया के टॉप 20 अमीरों की लिस्ट  में शामिल हो गए हैं । अगर पिछले साल के मुताबिक इस एक साल में अडाणी की संपत्ति में बड़ा उछाल आया है। एक साल की कमाई को देखें तो उन्होंने दुनियाा के सबसे अमीर इंसान जेफ बेजोस को भी पीछे छोड़ दिया है । एक साल में गौतम अडानी की सम्पति 16.2 अरब डॉलर से बढ़कर 57.1 अरब डॉलर हो गई है ।

Mukesh Ambani  के बाद Gautam Adani देश के दूसरे सबसे अमीर शख्स है।

गौतम अडाणी का कारोबार लगभग हर सेक्टर में फैला है। पावर प्लांट्स , एयरपोर्ट्स, डाटा सेंटर्स, माइंस, पोर्ट्स के अलावा भी डिफेंस सेक्टर में भी अडाणी ग्रुप अग्रणी कंपनियों में शामिल है। दुनिया में जहां वो टॉप 20 अमीरों की लिस्ट में शामिल हैं तो वहीं भारत के सबसे अमीर लिस्ट में उनका दूसरा स्थान है । रिलायंस इंडस्ट्री के मुकेश अंबानी के बाद गौतम अडाणी देश के दूसरे सबसे अमीर शख्स है। 

Adani Group

पिछले कुछ हफ्तों में अडानी ग्रुप ने गंगावरम बंदरगाह में हिस्सेदारी प्राप्त की, गुजरात में विंड पावर संयंत्र चालू किया, , सोलर प्रोजेक्ट्स का अधिग्रहण किया ,मुंबई तट से दूर प्राकृतिक गैस के भंडार की खोज की एस्सेल इंफ्राप्रोजेक्ट्स से पावर ट्रांसमिशन प्रोजेक्ट खरीदा और भारत में एक गीगावाट की डेटा सेंटर क्षमता को विकसित करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here